How To Select Best Niche for blog In Hindi

Select Best Niche for blog In Hindi दोस्तों ब्लॉग्गिंग में निस एक बहुत ही इम्पोर्टेन्ट पॉइंट है।  आपके ब्लॉग की सफलता और असफलता इसी पर निर्भर करता हैं की आप अपने ब्लॉग के लिए किस निश को सेलेक्ट करते हैं।

अगर आप कोई अच्छा और प्रॉफिटेबल निश { profitable niche } सेलेक्ट करते हैं तो आपका ब्लॉग सफल होने के चांस बढ़ जाते हैं। आज कल के समय में नए ब्लॉगर यही पर बड़ी गलती कर देते हैं की वो गलत निश को चुनाव कर लेते हैं। जिस वजह से वो ब्लॉग बनाने के कुछ दिन बाद उस ब्लॉग पर वर्क करना छोड़ देते हैं। और उनका वो ब्लॉग असफल हो जाता हैं। 

How to find best profitable niche in hindi , how to choose best topic for blogging , choose best topic in blogging in hindi

इस लिए अगर आप अपना ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले अपने ब्लॉग के लिए एक अच्छा सा निश यानि केटेगरी को सेलेक्ट करना होगा। आप जिस कैटेगरी को सेलेक्ट करेंगे आपका ब्लॉग के सभी पोस्ट उसी कैटेगरी के अनुसार होंगे।

तो ऐसे में यह जरुरी हो जाता हैं की आप अपने ब्लॉग के लिए एक ऐसा निश को चुनाव करे जिसमे आप ब्लॉग बनाकर उस ब्लॉग को सक्सेस्फुल चला सके। लेकिन आप अपने ब्लॉग के लिए अच्छा निश का चुनाव कैसे कर सकते हैं। तो चलिए आज हम जानते हैं Select Best Niche for blog In Hindi.

How To Select Best Niche For blog In Hindi

अगर आप अपने ब्लॉग के लिए अच्छा निश का चुनाव करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए। तभी आप एक अच्छा निश को चुनाव करके एक ब्लॉग बना सकते हैं। जब भी आप अपने ब्लॉग का निश का चुनाव करे तो आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए जैसे :-

सर्च वॉल्यूम To Select Best Niche For blog

अगर आप अपने ब्लॉग को एक ऐसे निश पर बनाते हैं जिसका सर्च वॉल्यूम बहुत ही काम हैं तो फिर ये आपके ब्लॉग के लिए सही नहीं होगा। अगर सर्च इंजिन्स में आपके ब्लॉग के निश के सम्बंधित कीवर्ड्स का सर्च वॉल्यूम बहुत ही कम हैं तो फिर आपका ब्लॉग पर कभी भी अच्छा ट्रैफिक नहीं आ पायेगा।  और नतीजतन आपका ब्लॉग फ़ैल हो जायेगा।

जब भी आप अपने ब्लॉग के लिए कोई निश रिसर्च करने जाए चाहे वो माइक्रो निस ब्लॉग हो या मल्टी निस ब्लॉग तब आपको निश सेलेक्ट करते वक्त सर्च वॉल्यूम का ध्यान रखना पड़ेगा।

अगर आप ऐसा सोच रहे हैं की आप सोशल मीडिया से आप ट्रैफिक लेकर अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाएंगे। तो सोशल मीडिया का ट्रैफिक हमेसा टार्गेटेड नहीं होता हैं नतीजतन आपके ब्लॉग का बाउंस रेट बढ़ जायेगा।

कपडिशन To Select Best Niche For blog

ब्लोग्स की सफलता या असफलता के पीछे का एक कारण और हैं जिसका नाम हैं कपडिशन। अगर आप अपने ब्लोग्स के लिए निश सेलेक्ट करते वक्त उस निश का कपडिशन को चेक नहीं करते हैं या आप कपडिशन को इगनोर करते हैं तो यह आपके ब्लॉग के भविष्य के लिए सही नहीं हैं।

अगर आप अपने ब्लोग्स के लिए कोई ऐसा निश का चयन करते हैं जिसमे कपडिशन बहुत ज्यादा हैं तो आपके ब्लोग्स को गूगल में रैंक कराने में बहुत प्रॉब्लम आने वाली हैं। क्योकि उस कपडेटिव कीवर्ड्स पर बहुत सारी अथॉरिटी वेबसाइट रैंक कर रही होंगी। इसलिए आपका  नया  ब्लॉग को उस कपड़ेटिव कीवर्ड पर रैंक नहीं करेगा।

ऐसे कई सारे कीवर्ड रेसरचिंग टूल्स हैं जिसकी मदद से आप किसी भी कीवर्ड का डाटा पता कर सकते हैं। आप कीवर्ड्स का डाटा फाइंड करने के लिए Aherf और Semrush टूल्स का प्रयोग कर सकते हैं। ये टूल्स आपको किसी भी कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम और कपडिशन के साथ और भी कई एसीओ फैक्टर्स का डाटा प्रोवाइड कराती हैं।

आपका इंटरेस्ट

अगर आप Select Best Niche for blog In Hindi का चुनाव करते वक्त अपने इंटरेस्ट का ध्यान नहीं रखते हैं तब आपका ब्लॉग ज्यादा दिन तक एक्टिव नहीं रह पायेगा। अगर आप कोई ऐसा निश का चुनाव करते हैं। जिसमे आपका कोई दिलचस्पी नहीं हैं और फिर भी आप उस टॉपिक पर ब्लॉग बनाते हैं। तो आप उस निश पर ज्यादा पोस्ट नहीं लिख पाएंगे।

आप कुछ दिनों तक गूगल से पढ़कर तो पोस्ट लिख पाएंगे। लेकिन उसके बाद इस निश में आपका इंटरेस्ट नहीं होने के कारण आप उस ब्लॉग को छोड़ देंगे। इसलिए जब भी आप निश का चुनाव करे तब आपको अपने इंटरेस्ट के बारे में ध्यान रखना चाहिए।

आपका ज्ञान 

आपका ज्ञान भी आपके Select Best Niche for blog In Hindi में  एक बहुत ही महत्वपूर्ण फैक्टर हैं। आप अगर किसी ऐसे निश पर ब्लॉग बनाते हैं जिसपर आपको ज्यादा ज्ञान नहीं हैं तब भी आपको ब्लॉग को एक्टिव रखने में परेशानी आ सकती हैं।

अगर आप किसी माइक्रो निश पर ब्लॉग बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको उस निश में अच्छा खासा नॉलेज प्राप्त करना होगा। फिर आप उस निश पर एक ब्लॉग बना सकते हैं। अगर आप अपने ब्लॉग के निश के बारे में कम्पलीट नॉलेज नहीं रखते हैं तो आप अपने ब्लॉग में क्वालिटी कंटेंट नहीं दे पाएंगे। इसलिए आप अपने निश के समन्धित सम्पूर्ण ज्ञान लेकर ही ब्लॉग बनाना चाहिए।

एअर्निंग करने का तरीका 

अब चलिए हम बात करते हैं की आप अगर एक निश सेलेक्ट करते  हैं तो आप को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आप उस निश में किन किन तरीको से एअर्निंग कर सकते हैं।

आप अपने ब्लॉग के जरिये कई तरीको से एअर्निंग कर सकते हैं उसमे सबसे महत्वपूर्ण हैं  एडसेंसे और एफिलिएट मार्केटिंग।तो चलिए इस बारे में हम बात करते हैं

एडसेंसे :- जब आप अपने ब्लॉग के लिए निश का सिलेक्शन करे तब एडसेंसे के सीपीसी के बारे में भी ध्यान रखना चाहिए। आप अगर अपने ब्लॉग से एडसेंसे से एअर्निंग के बारे में सोच रहे हैं तो आपके लिए सीपीसी के बारे में ध्यान रखने की जरुरत हैं। क्योकि अगर आपके निश के रिलेटेड कीवर्ड्स के सीपीसी अच्छा हैं तो आप उस निश में अच्छा एअर्निंग कर सकते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग :- अगर आप अपने ब्लॉग से एफिलिएट मार्केटिंग से एअर्निंग करना चाहते हैं तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आप जिस निश को अपने ब्लॉग के लिए सेलेक्ट कर रहे हैं उस में आप एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं।

आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए की आप जिस प्रोडक्ट को अपने ब्लॉग में एफ्लीएट करने जा रहे हो उस प्रोडक्ट का कमिसन अच्छा खासा हैं तभी आप अपने ब्लॉग से अच्छा एअर्निंग कर सकते हैं।

Select Best Niche for blog In Hindi पर आखिरी शब्द

अगर आप अपने ब्लॉग के लिए एक Best Niche for blog फाइंड करना चाहते हैं तो आप ऊपर दिए गए पॉइंट्स को फॉलो करके एक अच्छा और प्रॉफिटेबल निश फंड कर सकते हैं। आप अपने ब्लॉग के लिए निश फाइंड करते वक्त Aherf और Semrush जैसे टूल्स का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। उम्मीद हैं आप इन सेटप्स को फॉलो करेंगे तो आप एक प्रॉफिटेबल निश फाइंड कर सकते हैं।

उम्मीद है आपको यह पोस्ट अच्छा लगा होगा और आप इस पोस्ट की मदद से अपने ब्लॉग के लिए Best Niche for blog In Hindi कर पाएंगे। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर भी कर सकते हैं। आपको यह पोस्ट केसा लगा आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं।

The following two tabs change content below.
मै इस ब्लॉग का संस्थापक हूँ और एक ब्लॉगर हूँ। मै इस ब्लॉग पर अपने पाठकों के लिए इंटरनेट से जुडी जानकारी शेयर करता हूँ। ♥

Latest posts by Amit Tiwari (see all)

2 thoughts on “How To Select Best Niche for blog In Hindi”

Leave a Comment